Home Top Ad

ISIS के पहले समूह ने समझौते के तहत छोड़ा अपना अंतिम गढ़

Share:


सीरिया की राजधानी में आज सुबह आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के पहले समूह ने समझौते के तहत अपने अंतिम गढ़ को छोड़ दिया। यह घटनाक्रम कई हफ्ते तक चली भीषण लड़ाई के बाद हुआ।


छह दिवसीय दौरे पर हिमाचल प्रदेश पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद 

ब्रिटेन आधारित ‘सीरियन आब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ' के प्रमुख रमी अब्दुल रहमान ने कहा , ‘‘आईएस के लड़ाकों और उनके रिश्तेदारों ने यारमुक फलस्तीनी शरणार्थी शिविर और पास के तादामुन जिले को छोड़ दिया , जो छह बसों में सवार थे।

रहमान ने बताया कि सीरिया के विशाल रेगिस्तान के लिए बसें पूर्व की तरफ रवाना हो गईं जहां कुछ हिस्से पर आईएस का अब भी कब्जा है। उन्होंने इसका कोई ब्योरा नहीं दिया कि वाहनों में कितने लोग सवार थे , लेकिन उन्होंने कहा कि उनमें से अधिकतर जिहादियों के रिश्तेदार थे और वे सशस्त्र नहीं थे।

नीरव, चोकसी के खिलाफ रेडकार्नर नोटिस के लिए इंटरपोल जा सकती है सीबीआई

यह घटनाक्रम दक्षिणी दमिश्क से आईएस को खदेड़ने के लिए महीनेभर से जारी लड़ाई को खत्म करने के वास्ते हुए समझौते के एक दिन बाद हुआ। सरकार समर्थक बल, खासकर फलस्तीनी मिलिशिया आईएस के कब्जे से यारमुक, तादामुन और कदम तथा हाजर अल असवाद को छुड़ाने के लिए 19 अप्रैल से लड़ रहे थे।

आब्जर्वेटरी के अनुसार , इस लड़ाई में 250 से अधिक शासन समर्थक सशस्त्रकर्मी और आईएस के 233 लड़ाके मारे गये।