Home Top Ad

तानाशाह की बहन से शादी करने वाले को मिलेगा 1000 करोड़ और सोना लेकिन उससे पहले जान लें शर्ते

Share:

तानाशाह की बहन से शादी – उत्तर कोरिया का क्रूर तानाशाह पहली बार कोई लोकतांत्रिक तरीका अपनाने जा रहा है। किम जोंग उन को अपनी 29 साल की बहन के लिए लड़के की तलाश है और अपनी बहन की शादी के लिए उसने
लड़के को दहेज में बहुत कुछ देने का ऐलान किया है।

आइए जानते हैं कि दुनिया के सबसे क्रूर तानाशाह की बहन से शादी करने वाले लड़के को दहेज में क्‍या मिलेगा।

दूल्‍हें को 1000 करोड़ रुपए कैश मिलेंगें किम अपने जीजा को शादी पर एक सोने की कार गिफ्ट में देंगें बारातियों को मिलेंगें सोने के सिक्‍के सोने की डोली में होगी दुल्‍हन की विदाई रहने के लिए आलीशान घर भी होगा सोने से जड़े होंगें दूल्‍हे के कपड़े दहेज में मिलेंगें सोने के बर्तन

इस लिस्‍ट को देखकर आप भी समझ गए होंगें कि किम जोंग उन अपनी बहन की शादी पर कितने पैसे उड़ाने वाला है। लेकिन ये भी सोचने वाली बात है कि इतना दहेज देने पर भी किम की बहन की शादी क्‍यों नहीं हो पा रही है।


ऐसा नहीं है कि उसे दूल्‍हें पसंद नहीं आ रहे हैं बल्कि तानाशाह खुद अपना जीजा चुनेगा और इसके लिए उसने कुछ शर्तें भी रखी हैं जो इस प्रकार हैं :

प्‍योंगयांग यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएट लड़का चाहिए। लंबाई 5 फुट 10 ईंच होनी चाहिए। लड़के का आर्मी बैकग्राउंड होना चाहिए या लड़के की आर्मी में नौकरी होनी चाहिए। लड़के का रंग गोरा और सिक्‍स पैक एब्‍स होने चाहिए। चेहरे पर दाग या चोट का निशान ना हो। शरीर का वजन 75 किलो से कम हो लड़के का किसी के साथ अफेयर ना हो।

अगर आप ये सब शर्तें पूरी कर देते हैं तो तानाशाह की बहन से शादी हो सकती है और बताई गई बेशुमार दौलत आपकी हो सकती है।


उत्तर कोरिया का देश बहुत अजीब है और यहां के कानून भी कुछ अलग ही हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने आर्थिक और व्यापारिक प्रतिबंध इस देश पर लगाए हुए हैं। नॉर्थ कोरिया के नागरिक दूसरे देशों में कुछ भी नहीं कर सकते हैं। मतलब कि उन्हें दूसरे देश जाकर अपनी मर्जी से कुछ करने या खरीदने की आज़ादी नहीं है।

नॉर्थ कोरिया के नागरिक जोकि विदेशों में तैनात हैं वो वहां पर अपना अकाउंट नहीं खुलवा सकते हैं। इनमें उत्तर कोरिया के कूटनीतिक अधिकारी भी आते हैं। उत्तर कोरिया की सरकारी एयरलाइन कंपनी चीन और रूस के लिए उड़ान भरती है। यूरोपीय संघ में सुरक्षा कारणों की वजह से इसके उड़ाने भरन पर प्रतिबंध है।

उत्तर कोरिया के नागरिक विदेशी कारों में तो सवार हो सकते हैं लेकिन दूसरे देश के प्‍योंग्‍यांग को एविएशन, जेट और रॉकेट फ्यूल नहीं बेच सकते हैं। फिलहाल कच्‍चे तेल की सप्‍लाई की इजाजत है। उत्तर कोरिया की सेना विदेशी सेनाओं से कुछ नहीं सीख सकती है। विदेशी सेनाओं के साथ इसके ट्रेनिंग करने पर भी बैन है। इस प्रतिबंध के दायरे में पुलिस और अर्धसैनिक बल भी आते हैं लेकिन मेडिकल एक्‍सचेंज में छूट दी गई है। तानाशाह की बहन से शादी – जिस देश के नियम इतने सख्‍त हों और पूरी दुनिया से उसका बैर हो और खुद वहां का तानाशाह अपनी क्रूरता के लिए फेमस हो तो उसकी बहन से शादी करने की हिम्‍मत कौन कर पाएगा।